News is Your Email

Popular News

Trending Now
Loading...

नक्सल हिंसा से पीड़ित आंध्र गए 29 आदिवासी परिवार 15 साल बाद आज लौटेंगे सुकमा

छत्तीसगढ़। नक्सल हिंसा के खिलाफ शुरू किए गए सलवा जुडूम के दौरान बस्तर छोड़कर आंध्र प्रदेश में जा बसे आदिवासी परिवारों के अब वापस बस्तर आने की कवायद शुरू हुई है. घोर नक्सल प्रभावित सुकमा जिले के 29 परिवार गुरुवार को वापस अपनी जमीन पर लौट रहे हैं. दावा किया जाता है कि सलाव जुडूम के दौरान नक्सलियों ने इनके घर जला दिए थे. इसके बाद वे दहशत में अपनी जमीन छोड़ पड़ोसी प्रांत आंध्र में निर्वासितों की तरह दिन गुजार रहे थे.15 साल बाद गुरुवार को वे अपने गांव, अपने घर लौट रहे हैं. 
       सुकमा जिले के एर्राबोर से 7 किमी दूर बसे गांव मरईगुड़ा से इन परिवारों के वापसी की शुरुआत हो रही है. बताया जा रहा है कि अपने गांव से करीब 75 किलोमीटर दूर आंध्रप्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले के कन्नापुरम गांव में इन्होंने ठिकाना ढूंढ़ा और मिर्ची के खेतों में मजदूरी कर गुजर-बसर करने लगे. इन परिवारों को 15 साल तक आंध्र प्रदेश में न तो वोटर आईडी मिली, न वनभूमि का पट्‌टा.

नक्सल हिंसा से पीड़ित आंध्र गए 29 आदिवासी परिवार 15 साल बाद आज लौटेंगे सुकमा-Naxal-violence-suffered-29-family-come-back-to-sukma-chhatisgarh
Share it:

छतीसगढ़

बस्तर

Post A Comment:

More from Web