News is Your Email

Popular News

Trending Now
Loading...

राजस्थान- हिंसा फैलाने के आरोप में 1 हजार लोग गिरफ्तार

राजस्थान। पुलिस ने सोमवार के बंद के दौरान उपद्रव करने वाले करीब एक हजार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पूरे राजस्थान में अर्धसैनिक बलों की करीब 23 कंपनियां तैनात की गई है। राजस्थान के डीजीपी ओपी गहलोत ने बताया कि पूरे राजस्थान में हर जिले में पुलिस फ्लैग मार्च कर रही है। हिंसा में शामिल लोगों की पहचान की जा रही है, हालांकि कल की हिंसा के बाद आज भी राजस्थान में कई जगह हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं। सवाई माधोपुर जिले के गंगापुर सिटी में कर्फ्यू 24 घंटे के लिए और बढ़ा दी गई है। 
        करौली जिले के हिंडौन सिटी में मंगलवार को फिर से व्यापारियों और सर्व समाज के ऊपर पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज किया। सोमवार दुकान और वाहन जलाए जाने के खिलाफ व्यापारी और दूसरे समाज के लोग मंगलवार को बंद का आह्वान करते हुए कलेक्टर को ज्ञापन देने जा रहे थे। तब पुलिस ने धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में यह कार्रवाई की है। सोमवार को बंद के दौरान उपद्रवियों ने इंदौर रेलवे स्टेशन को आग के हवाले कर दिया था। इस बीच अलवर में भी कल पुलिस फायरिंग में मारे गए पवन के परिवारजनों ने शव लेने से इंकार कर दिया है। परिजन एक करोड़ मुआवजे की मांग कर रहे हैं। 
       हालात तनावपूर्ण देखते हुए पुलिस ने पूरे अलवर शहर में धारा 144 लगा दी है। अलवर जिला कलेक्टर ने मामले की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं ।जोधपुर में घायल हुए सब इंस्पेक्टर महेंद्र चौधरी की हालत अभी नाजुक बनी हुई है। महेंद्र चौधरी को एयर एंबुलेंस से जोधपुर ले जाने की तैयारी की जा रही है। सीकर के नीमकाथाना में बंद के विरोध में व्यापारियों ने पूरी तरह से शहर को बंद रखा है। शहर में पुलिस फ्लैग मार्च कर रही है। हिंसा में करीब 8 लोग घायल हुए हैं जिन का इलाज अलग-अलग अस्पतालों में चल रहा है। बंद के दौरान करीब 2500 करोड़ के नुकसान का आकलन किया जा रहा है रेलवे और रोडवेज को भी भारी क्षति हुई है। रेलवे ने भी हिंडोन करौली और भरतपुर में मुकदमा दर्ज करवाया है।

राजस्थान- हिंसा फैलाने के आरोप में 1 हजार लोग गिरफ्तार-thousands-people-arrested-for-spreading-violence-flag-marches-in-every-district
Share it:

भारत बंद

राजस्थान

Post A Comment:

More from Web