News is Your Email

Popular News

Trending Now
Loading...

मुख्यमंत्री जी बने पालक बेटी रिंकी के विवाह में पहुंचकर बारातियों का किया हार्दिक स्वागत किया

वरमाला के बाद मुख्यमंत्री सहित अन्य सभी ने दिया आशीर्वाद, सुन्दर सेवा आश्रम में पली बड़ी रिंकी परिणय सूत्र में बंधी
     विदिशा: मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा विदिशा के मुखर्जी नगर में स्थापित सुन्दर सेवा आश्रम में पली बड़ी रिंकी आज पूरे धार्मिक रीति रिवाज से परिणय सूत्र में बंधी। वैवाहिक कार्यक्रम श्री बाढ़ वाले गणेश मंदिर में हुआ। वर-वधु को आशीष देने के लिए विशेष तौर पर मुख्यमंत्री स्वयं और उनके मंत्रीमण्डल के सदस्यगण, वरिष्ठ अधिकारी, जनप्रतिनिधि और गणमान्य नागरिकों ने शुभ आशीष दिया।
 हर रस्म में साधना साथ 
       मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान उनकी पत्नी श्रीमती साधना सिंह ने पालक माता की भूमिका निभाते हुए रिंकी की शिक्षा दीक्षा का ही प्रबंध ही नही किया बल्कि उसके वैवाहिक जीवन के लिए हर संभव प्रयास किए है। साधना सिंह ने रिंकी के वैवाहिक हर रस्म अपनी मौजूदगी में कराई।
         सुन्दर सेवा आश्रम में सन् 2000 में आई रिंकी के लिए वर की तलाश का जिम्मा मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने साधना सिंह को सौंपा। रिंकी जिस वक्त आश्रम में आई, तब उसकी उम्र छह साल थी और अब वह 22 वर्ष की हो चुकी है। इस आश्रम की स्थापना मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वर्ष 2002 में अपने विदिशा संसदीय क्षेत्र के सांसद रहते हुए की थी। हाई स्कूल तक शिक्षा प्राप्त रिंकी आज अहमदपुर के रहने वाले श्री भंवरलाल मेहर परिणय सूत्र में बंधे।

Foster-daughter-Rinke-became-chief-minister-has-extended-a-warm-welcome-to-the-procession-arrived-at-the-wedding-मुख्यमंत्री जी बने पालक बेटी रिंकी के विवाह में पहुंचकर बारातियों का किया हार्दिक स्वागत किया

Foster-daughter-Rinke-became-chief-minister-has-extended-a-warm-welcome-to-the-procession-arrived-at-the-wedding-मुख्यमंत्री जी बने पालक बेटी रिंकी के विवाह में पहुंचकर बारातियों का किया हार्दिक स्वागत किया


Share it:

मध्यप्रदेश

मुख्यमंत्री

विदिशा

Post A Comment:

More from Web