News is Your Email

Popular News

Trending Now
Loading...

लखनऊ में हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट के पर्दाफाश

  लखनऊ। लखनऊ में चल रहे हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट के पर्दाफाश के बाद अब जो बातें निकल कर सामने आ रही हैं वह बेहद चैंका देने वाली हैं। पुलिस सूत्रों के मुताबिक गोमतीनगर के विशालखण्ड में इलाहाबाद विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष के बंगले में चल रहे इस सेक्स रैकेट से 25 से 30 लाख रुपए महीना कमाई की जाती थी। संचालक की जेब में रोज करीब 90 हजार रुपए आते थे। छापेमारी में हत्थे चढ़ी तीन कॉल गर्ल समेत 14 लोगों को मंगलवार को जेल भेज दिया गया। गौरतलब है कि सोमवार रात पुलिस ने विशालखण्ड के 3ध्203 में चल रहे सूर्या गेस्ट हाउस में छापा मारा था। वहां तीन कॉल गर्ल समेत 14 लोग पकड़े गए थे। छापेमारी के दौरान वहां मौजूद संचालक बसपा नेता महेन्द्र पाल सिंह व उसके साथियों ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया था। कोर्ट में आरो
पियों की पैरवी में कई वकील जुट गए। दर्जन भर वकील आरोपियों का वकालतनामा भरने को तैयार थे।
                   एएसपी ट्रांसगोमती दिनेश यादव ने बताया कि गेस्ट हाउसध्लॉज आदि के संचालन के लिए प्रशासन से अनुमति लेनी पड़ती है। जांच की जा रही है कि सूर्या गेस्ट हाउस पंजीकृत है या फिर अवैध ढंग से चल रहा था। दिल्ली में पकड़ी गई तो लखनऊ का रुख कियारू सूर्या गेस्ट हाउस में मिली तीन कॉल गर्ल जम्मू, दिल्ली व गाजियाबाद की हैं। पूछताछ के दौरान दिल्ली की कॉल गर्ल ने बताया कि करीब 6 महीना पहले दिल्ली के बसंत विहार में हाईप्रोफाइल सेक्स रैकेट पकड़ा गया था। इस रैकेट में वह भी पकड़ी गई थी। दिल्ली पुलिस ने उसे जेल भेजा था। वह जमानत पर बाहर निकली और लखनऊ का रुख कर लिया। वहीं जम्मू निवासी कॉल गर्ल गुडग़ांव के एक फैशन इंस्टीटयूट की छात्र है।
              गाजियाबाद की कॉल गर्ल ने बताया कि वह एक रियल एस्टेट कंपनी में काम करती थी। राज उगले, मास्टरमाइंड की तलाशरू पूछताछ में महेंद्रपाल सिंह ने रैकेट में शामिल अन्य लोगों के नाम उगले हैं। उसके मुताबिक अरुण सिंह इस गोरखधंधे का मास्टरमाइंड है। अब पुलिस उसकी तलाश में जुट गई है। मिली जानकारी के मुताबिक अरुण सिंह ही एजेंटों के माध्यम से कॉल गर्ल्स को लखनऊ बुलवाता था और इनका पैकेज भी वही तय करता था। खंगाला जा रहा है वेबसाइट का ब्यौरारू सेक्स रैकेट संचालक वेबसाइट के जरिए ग्राहकों से संपर्क करते थे।
Share it:

उत्तरप्रदेश

क्राइम रिपोर्ट

लखनऊ

Post A Comment:

More from Web